Category: पौराणिक कथाएँ

Dharma Darshan

कैसे हुआ हनुमान जी का जन्म

वायु पुत्र यूं तो भगवान हनुमान जी को अनेक नामों से पुकारा जाता है, जिसमें से उनका एक नाम वायु पुत्र भी है। जिसका शास्त्रों में सबसे ज्यादा उल्लेख मिलता है। शास्त्रों में इन्हें...

Dharma Darshan

दानवीर कर्ण

कर्ण कुंती का पुत्र था कर्ण कुंती का पुत्र था। पाण्डु के साथ कुंती का विवाह होने से पहले ही इसका जन्म हो चुका था। लोक-लज्जा के कारण उसने यह भेद किसी को नहीं...

Dharma Darshan

महाभारत अर्जुन की प्रतिज्ञा

द्रोणाचार्य ने चक्रव्यूह की रचना की महाभारत का भयंकर युद्ध चल रहा था। लड़ते-लड़के अर्जुन रणक्षेत्र से दूर चले गए थे। अर्जुन की अनुपस्थिति में पाण्डवों को पराजित करने के लिए द्रोणाचार्य ने चक्रव्यूह...

Dharma Darshan

भगवान विष्णु जी और माता लक्ष्मी जी

भगवान विष्णु धरती पर पहुच गये एक बार भगवान विष्णु जी शेषनाग पर बेठे बेठे बोर होगये, ओर उन्होने धरती पर घुमने का विचार मन मै किया, वेसे भी कई साल बीत गये थे...

Vikram Vetal Kahaniya

लड़की किसको मिलनी चाहिए?

विक्रम-बेताल उज्जैन में महाबल नाम का एक राजा रहता था। उज्जैन में महाबल नाम का एक राजा रहता था। उसके हरिदास नाम का एक दूत था जिसके महादेवी नाम की बड़ी सुन्दर कन्या थी।...

Vikram Vetal Kahaniya

ज्यादा पापी कौन?

विक्रम-बेताल भोगवती नाम की एक नगरी थी। भोगवती नाम की एक नगरी थी। उसमें राजा रूपसेन राज करता था। उसके पास चिन्तामणि नाम का एक तोता था। एक दिन राजा ने उससे पूछा, “हमारा...

Vikram Vetal Kahaniya

ज्यादा पुण्य किसका?

विक्रम-बेताल वर्धमान नगर में रूपसेन नाम का राजा राज करता था। वर्धमान नगर में रूपसेन नाम का राजा राज करता था। एक दिन उसके यहाँ वीरवर नाम का एक राजपूत नौकरी के लिए आया।...

Dharma Darshan

श्रीराम और हनुमान

रघुपति कीन्ही बहुत बडाई । तुम मम प्रिय भरतहि सम भाई इस चौपाई में प्रभु श्रीराम हनुमानजी की बड़ाई कर रहे है और कह रहें है कि तुम मेरे लिए भाई भरत के जैसे...

Dharma Darshan

108 का रहस्य !

(The Mystery of 108) वेदान्त में एक मात्रकविहीन सार्वभौमिक ध्रुवांक 108 का उल्लेख मिलता है जिसका हजारों वर्षों पूर्व हमारे ऋषियों (वैज्ञानिकों) ने अविष्कार किया था l 108 = ॐ (जो पूर्णता का द्योतक...

Dharma Darshan

भगवान हनुमान

हनुमानजी और महाभारत रामायण में प्रमुख भूमिका निभाने वाले भगवान हनुमान महाभारत में महाबली भीम से पांडव के वनवास के समय मिले थे। चिरंजीवी हनुमान इन्हे चिरंजीवी भी कहा गया है, यह वो लोग...