हिंगलाज- सुभाषित

Subhashitani Sanskrutam

संस्कृत के सुभाषित

गजवक्त्रं सुरश्रेष्ठं कर्णचामरभूषितम् ।
पाशाङ्कुशधरं देवं वन्देऽहं गणनायकम् ॥

Sanskrit Subhashit with hindi meaning

हाथी के मुख वाले देवताओं में श्रेष्ठ, कर्णरूपी चामरों से विभूषित तथा पाश एवं अंकुश को धारण करनेवाले भगवान् गणनायक गणेश की मैं वन्दना करता हूँ ।

You may also like...

%d bloggers like this: